Saturday, April 20, 2024
HomeHindi Newsदादी जी का सपना पूरा करने की नीट की तैयारी,कड़ी मेहनत से...

दादी जी का सपना पूरा करने की नीट की तैयारी,कड़ी मेहनत से ऐसे पाई सफलता

देश की सबसे कठिन प्रवेश परीक्षाओ में से एक नीट में बाजी मारना कितना मुश्किल है ये हर कोई जानता है। इस परीक्षा में सफल होने के लिए स्टूडेंट्स सालो की तैयारी करते हैं। दिल्ली से लेकर कोटा तक छात्र कोचिंग का भी सहारा लेते हैं। लेकिन सफलता बेहद कम ही स्टूडेंट के नसीब में आती है। ऐसी ही एक छात्रा हैं अदिति प्रिया जिन्होंने दादाजी का सपना पूरा करने के लिए नीट की न सिर्फ तैयारी की बल्कि बाजी भी मारी।

दादाजी की तरह बनना था डॉक्टर

अदिति हमेशा से अपने दादाजी की तरह डॉक्टर बनना चाहती थी। अदिति कहती हैं कि ये सफर मेरे लिए बिल्कुल भी आसान नहीं था. मैं 2021 में NEET UG में अपने पहले प्रयास के लिए उपस्थित हुई लेकिन बुरी तरह असफल रही। फिर मैंने पूरे समर्पण के साथ नीट की तैयारी के लिए एक साल का समय लिया। इसके बाद NEET UG 2021 में 427 से, मैं 2022 में 634 अंक हासिल करने में सफल रही।

दसवीं के बाद शुरू की तैयारी

अदिति ने दसवीं कक्षा की परीक्षा समाप्त होने के बाद, मेडिकल प्रवेश परीक्षा के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी। हालाँकि, NEET में उनका पहला प्रयास सफल नहीं हुआ। हालाँकि इसके बावजूद अदिति ने हार नहीं मानी। अदिति ने NEET के प्रत्येक विषय के लिए संक्षिप्त नोट्स बनाए। अदिति कहती हैं मेरे द्वारा बनाए गए छोटे नोट्स के कारण ही मेरे दूसरे प्रयास में मेरे NEET UG अंकों में सुधार हुआ और मेरी रैंक आई।

ऐसी की तैयारी

अदिति ने कहा कि मैंने एनसीईआरटी की किताबों पर ध्यान केंद्रित किया और उन्हें अच्छे से पढ़ा। मैंने एनसीईआरटी को दिल से पढ़ना सुनिश्चित किया।
मेरा सिलेबस पूरा होने के बाद, मैंने मॉक टेस्ट देना शुरू किया। ऑनलाइन मॉक टेस्ट देने के बजाय, मैंने ऑफ़लाइन मोड में मॉक टेस्ट देने पर भरोसा किया क्योंकि वास्तविक NEET UG एक पेन और पेपर-आधारित परीक्षा के रूप में आयोजित किया जाता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments