CAA विरोधी प्रदर्शनकारियों के खिलाफ योगी सरकार का बड़ा एक्शन , 60 लोगो से करेगी 57 लाख के नुक्सान की भरपाई

उत्तरप्रदेश में लगभग तीन साल पहले सीएए ( नागरिकता संशोशन कानून ) और एनआरसी ( राष्ट्रीय नागरिक पंजी ) विरोधी प्रदर्शनों के दौरान हिंसा और आगजनी की घटनाओं में शामिल नहटौर के 60 प्रदर्शनकारियों को लेकर योगी सरकार ने बड़ा एक्शन लिया है। यूपी पुलिस ने मामले में नोटिस जारी कर 57 लाख रुपये के नुकसान की भरपाई करने का निर्देश दिया है ।

नहटौर के थाना प्रभारी पंकज तोमर ने शनिवार को बताया कि 20 दिसंबर 2019 को नहटौर में सीएए / एनआरसी के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों ने हिंसक रूप ले लिया लिया था । उन्होंने कहा कि भीड़ ने सरकारी संपत्ति में तोड़ – फोड़ की थी और थाने पर खड़ी पुलिस की जीप और मोटरसाइकिलों में आग लगा दी थी ।

थाना प्रभारी तोमर के मुताबिक , इस दौरान भीड़ ने पुलिस पर पथराव भी किया था और जवाब में पुलिस को गोली चलानी पड़ी थी । उन्होंने बताया कि हिंसक प्रदर्शन में अनस और सलमान नाम के दो युवकों की गोली लगने से मौत हो गई थी । तोमर के अनुसार , प्रशासन ने प्रदर्शन के दौरान 57 लाख रुपये की सरकारी संपत्ति के नुकसान का आकलन किया था । उन्होंने बताया कि पुलिस ने अब हिंसा में शामिल 60 आरोपियों को 57 लाख रुपये की भरपाई के लिए नोटिस जारी किए हैं ।

MUST READ