झारखण्ड में भाजपा सांसद को क्यों करनी पड़ी मोमबत्ती जलाकर प्रेस कॉन्फ्रेंस ? अँधेरे में बैठे रहे पत्रकार

झारखण्ड से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। राजधानी रांची में भाजपा के एक सांसद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की। लेकिन जब प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकार शामिल होने पहुंचे तो उन्हें अँधेरे में बैठना पड़ गया। ऐसे में भाजपा सांसद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस सुचारू रूप से चल सके इसके लिए मोमबत्तियां जलाई और हॉल को रोशन किया गया।

दरअसल यह बिजली ख़राब या गुल होने की वजह नहीं हुआ। बल्कि भाजपा सांसद संजय सेठ ने बिजली कटौती से परेशान होकर सोरेन सरकार के खिलाफ विरोध का नया रास्ता इख़्तियार किया है।

रांची में बुधवार को भाजपा सांसद संजय सेठ ने बिजली कटौती के विरोध में मोमबत्ती जलाकर प्रेस कांफ्रेंस की।संजय सेठ ने इस दौरान कहा कि रांची में 6-8 घंटे बिजली नहीं रहती है, कभी-कभी तो रात में बिजली जाती है और सुबह में आती है। यह स्थिति पिछले ढ़ाई से तीन महीने से है।

भाजपा सांसद संजय सेठ ने कहा कि मैंने अपनी राजनीति में बिजली की इतनी गंभीर समस्या नहीं देखी। बिहार के समय भी जब हम एक साथ थे, तब झारखंड में बिजली की स्थित इतनी खराब नहीं थी.

MUST READ