15 दिनों के 50 रूपए बढे घरेलु गैस के दाम,राहुल ने कहा – जनता को भूखे पेट सोने में मजबूर करने वाला….

देश में आम आदमी की रोटी अब दिन पर दिन महँगी होती जा रहा है।कोरोना महामारी के चलते आये आर्थिक संकट से आमआदमी पूरी तरह अभी उभर भी नहीं पाया है था कि अब बढ़ती हुई महंगाई ने आम आदमी की थाली में अपना डेरा जमा लिया है। सितम्बर माह की पहली तारीख को एक बार फिर घरेलु गैस के दामों में इजाफा किया गया है। पेट्रोलियम कंपनियों ने 1 सितंबर को फिर घरेलु गैस के दामों में 25 रुपयों की बढ़ोत्तरी की है। वहीँ इससे पहले 18 अगस्त को ही 25 रूपए दामों में बढ़ाये गए थे। इस तरह पिछले 15 दिनों में घरेलु गैस की कीमतों में 50 की बढ़ोत्तरी हुई है। और इस बढ़ोत्तरी से अब आम आदमी की रोटी और भी महँगी होती नजर आ रही है।

बढ़ती हुई महंगाई से आम आदमी की तो कमर टूट ही रही है लेकिन इस महंगाई से विपक्ष भी सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। कांग्रेस लगातार देश में महंगाई के विरोध में प्रदर्शन करती रही है वहीँ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी लगातार घरेलु गैस के बढ़ते हुए दामों को लेकर सरकार और सीधा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला कर रहे हैं। इसी सिलसिले में जब सितंबर माह की पहली ही तारीख को घरेलु गैस के दाम बढे तो राहुल को पीएम पर हमला करने का एक और मौका मिल गया।

राहुल गाँधी इन दिनों अपने हमलो में पीएम और उद्योगपतियो के सम्बन्धो को लेकर हावी हैं। जिसे वे मित्र नाम से सम्बोधित करते हैं और निशाना साधते हैं ,इसी क्रम में राहुल गाँधी ने घरेलु गैस के दामों में बढ़ोत्तरी को लेकर ट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि ‘जनता को भूखे पेट सोने पर मजबूर करने वाला खुद मित्र – छाया में सो रहा है …लेकिन अन्याय के खिलाफ एकजुट हो रहा है। अपने इस ट्वीट में राहुल गांधी ने इस साल की 1 जनवरी से लेकर 1 सितंबर तक घरेलु गैस के दामों की सूची भी डाली जिसमे बताया गया है कि 1 जनवरी को दिल्ली में घरेलु गैस के दाम 694 रूपए थे वहीँ 1 सितंबर को दाम बढ़कर 884. 50 रूपए हो चुके हैं। यानि की पिछले 8 महीनो में घरेलु गैस के दामों में कुल 190 रूपए की बढ़ोत्तरी की गयी है।

MUST READ