बिहार में नीतीश के खिलाफ तेजस्वी यादव का वार आईएस की FIR दर्ज नहीं होने पर बताया ‘भ्रष्टाचार का पितामह’

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार sc-st थाने में मुख्यमंत्री सचिवालय के कई अधिकारी और नीतीश कुमार के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराने पहुंचे। जहां उनकी f.i.r. तो दर्ज नहीं की गई लेकिन शिकायत ले ली गई जिसके बाद सुधीर कुमार ने कहा की उनके शिकायत पत्र को ले लिया गया है लेकिन एफ आई आर दर्ज नहीं की गई है लेकिन इस पूरे मामले को लेकर विपक्षी नेता तेजस्वी यादव को मौका मिल गया और मौके को भुनाने का उन्होंने जमकर प्रयास भी किया। और जुबानी हमले बोल दिए।

नीतीश को बताया भ्रष्टाचार का पितामह

सुधीर कुमार की एफ आई आर दर्ज ना होने पर बिहार विधानसभा के विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव जमकर भड़के उन्होंने कहा कि यह सब मुख्यमंत्री के इशारे पर हो रहा है मुख्यमंत्री के यहां दस्तावेज पहुंच रहे हैं कंप्लेंट हटा दी जाती है आखिर क्या कारण है तेजस्वी यादव ने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री पर आरोप लग रहे हैं और फिर भी लोग खामोश हैं। जब चीफ सेक्रेटरी रैंक के अधिकारी केएफआईआर नहीं ली जा रही है तो आम नागरिकों का क्या हाल होता होगा। यही नहीं तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर नीतीश कुमार को भ्रष्टाचार का पितामह तक कह दिया तेजस्वी ने कहा कि”शर्मनाक और निंदनीय!

बिहार में एक अपर मुख्य सचिव स्तर के वरिष्ठ अधिकारी को FIR दर्ज कराने के लिए तरसना पड़ रहा है। बिहार में आप गवर्नेंस की बस कल्पना करिए!

ऐसे ही थोड़े ना मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह कहलाए जाते है।”

बता दें कि सुधीर कुमार कई वर्षों तक राज्य कर्मचारी चयन आयोग में अध्यक्ष थे वहीं परीक्षा में धांधली के मामले में उन्हें आरोपी बनाया गया था वह कई वर्ष तक की न्यायिक हिरासत में भी रहे हैं।

MUST READ