सुरेश रैना का चौंकाने वाला बयान, कहा- हम भाग्यशाली हैं कि हमें ग्रेग चैपल जैसा कोच मिला था

Liberal Sports Desk : भारतीय क्रिकेट में ग्रेग चैपल और भारतीय खिलाड़ियों के बीच का विवाद पूरे क्रिकेट जगत में शुमार है यह तो सभी जानते हैं कि शायद ही भारत का कोई ऐसा खिलाड़ी है जो ग्रेग चैपल को लेकर यह कहता हुआ नजर आए कि ग्रेग चैपल एक बेहतर कौन है सौरव गांगुली और ग्रेग चैपल का विवाद कौन भूल सकते हैं यह तो जगजाहिर है कि जिस सौरव गांगुली ने ग्रेग चैपल को भारतीय टीम का कोच बनवाया था उसी ग्रेग चैपल ने सौरव गांगुली को न केवल उनकी कप्तानी से हटाया बल्कि सौरव गांगुली को टीम से भी हटवा दिया था।

भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना का चौंकाने वाला बयान

कई भारतीय क्रिकेटर तो पहले ही ग्रेग चैपल को लेकर अपनी नाराजगी व अपनी राय जग जाहिर कर चुके हैं। भारतीय खिलाड़ी हरभजन सिंह ने जिस तरह से ग्रेग चैपल को लेकर कहा था कि भारतीय क्रिकेट को ग्रेग चैपल ने डिस्ट्रॉय कर दिया था और कहीं ना कहीं उनका यह बयान सही भी था।लेकिन अब भारत के क्रिकेटर सुरेश रैना ने ग्रेग चैपल को लेकर एक ऐसा चौंकाने वाला बयान दिया है जिससे शायद फैंस व दूसरे खिलाड़ी शायद ही उनकी इस बात से सहमति जताए।

दरअसल एक टीवी शो के दौरान सुरेश रैना ने ग्रेग चैपल को लेकर कहा कि हम भाग्यशाली थे कि हमें ग्रेग चैपल जैसा कुछ मिला था जो हमें नंबर 1 फील्डिंग साइट बनाना चाहता था सुरेश रैना ने कहा कि ग्रेग चैपल नहीं वनडे क्रिकेट में हमें लक्ष्य का पीछा करना सिखाया। उन्होंने कहा ग्रेग चैपल और राहुल द्रविड़ बेहद ही अनुशास्नातकमक थे। ग्रेग चैपल हमेशा जूनियर और युवा खिलाड़ियों का समर्थन करते थे।

अब यदि सुरेश रैना के ग्रेग चैपल को लेकर इस बयान पर बात की जाए तो सुरेश रैना किस आधार पर यह बयान दे रहे हैं कि ग्रेग चैपल एक बेहतरीन कोच थे। सुरेश रैना ने ग्रेग चेप्पल की कोचिंग के दौरान ही अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। लेकिन जिस तरह से ग्रेग चैपल को लेकर भारतीय खिलाड़ियों की राय है सुरेश रैना का यह बयान कहीं ना कहीं भारतीय खिलाड़ियों के लिहाज से नगवार भी गुजर सकता है।

ग्रेग चैपल की कोचिंग के दौरान कई भारतीय खिलाड़ी को टीम से बाहर

ग्रेग चैपल की कोचिंग के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों की बात की जाए तो कई भारतीय खिलाड़ी ग्रेग चैपल की कोचिंग से आने से पहले बेहतर फॉर्म में थे।और ग्रेग चैपल के आने के बाद वे खिलाड़ी भी टीम से बाहर हुए जो लगातार बेहतर प्रदर्शन करते हुए आ रहे। थे इरफान पठान ने जब अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी तो 140 की गति से गेंद करने वाले भारत के शानदार गेंदबाज थे। लेकिन ग्रेग चैपल ने उन्हें हरफनमौला खिलाड़ी बनाने को लेकर उनकी गेंदबाजी को भी ख़राब करवा दिया इसके बाद यह भारतीय खिलाड़ी कभी भी अपनी वह वापस नहीं ला पाया।

MUST READ