बेन स्टोक्स का चौकाने वाला आरोप, WC में जानबूझकर हारी थी इंडिया, धोनी और कोहली की बल्लेबाजी पर…

Liberal Sports Desk: इंग्लैंड क्रिकेट टीम के स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने 2019 वर्ल्ड कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ हुई भारतीय टीम की हार को लेकर अपनी किताब में लिखे गए एक बयान से तूफान खड़ा कर दिया है। आपको बता दें कि 2019 विश्व कप में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए मैच में भारतीय टीम इंग्लैंड से 31 रनों से मुकाबला हार गई थी जिसके बाद भारतीय टीम के हार को लेकर पंचवा क्रिकेट दिग्गजों ने काफी आलोचना भी की थी अब बेन स्टोक्स ने अपनी किताब में एक बात लिखी है जिससे क्रिकेट जगत में तूफान मचा हुआ है।

बेन स्टोक्स ने अपनी नई किताब में लिखी गयी बात से मचाया बवाल

दरअसल बेन स्टोक्स ने अपनी नई किताब “ऑन फायर” मैं विश्व कप 2019 में खेले गए भारत और इंग्लैंड के मुकाबले को भलीभांति सारगर्भित किया है बेन स्टोक्स ने उस किताब में लिखा है कि” जब महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी के लिए आए तब भारतीय टीम को मैच जीतने के लिए 11 ओवरों में 112 रनों की आवश्यकता थी और उन्होंने बेहद ही अजीब तरीके से बल्लेबाजी की।

बेन स्टोक के मुताबिक धोनी ने मैच जीतने का नहीं दिखाया था जज्बा

बेन स्टोक्स ने अपनी किताब में जिक्र किया है कि महेंद्र सिंह धोनी ने उस मुकाबले को जीतने का कोई जज्बा नहीं दिखाया था। बेन स्टोक्स ने आगे मैच का जिक्र करते हुए कहा था कि उन्हें विराट कोहली और रोहित शर्मा की पार्टनरशिप भी अजीब तरीके की लगी थी। हालांकि बेन स्टोक्स ने इस बात को सिरे से नकार दिया था।

दरअसल उस मैच में सौरव गांगुली भी कमेंट्री कर रहे थे और जब महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव बल्लेबाजी कर रहे थे तो उस तरीके से लग ही नहीं रहा था कि महेंद्र सिंह धोनी और केदार यादव मैच को जिताने की कोशिश कर रहे हैं। सौरव गांगुली ने तो यहां तक कहा था कि मैच जिताने की जिम्मेदारी केवल विराट कोहली और रोहित शर्मा की नहीं है।

पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी सिकंदर बख्त ने कहा था कि भारत पाकिस्तान को बाहर करने के लिए जानबूझकर हारा

आपको बता दें पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी सिकंदर बख्त ने पाकिस्तान में एक टीवी चैनल के दौरान यह कहा था कि भारत पाकिस्तान को वर्ल्ड कप से बाहर करने के लिए इंग्लैंड से जानबूझकर हारा था।

MUST READ