संजय राउत ने जनआशीर्वाद यात्रा को बताया कोरोना की तीसरी लहर का न्यौता,भाजपा ने पलटवार कर दिया ये जवाब

भारतीय जनता पार्टी द्वारा देश भर में जन आशीर्वाद यात्रा का आयोजन किया जा रहा है यह जन आशीर्वाद यात्रा केंद्र के 43 नए मंत्रियों के द्वारा निकाली जा रही है जिसमें इन मंत्रियों के द्वारा जनता के पास पहुंचकर जनता से आशीर्वाद लिया जा रहा है। भाजपा की इस जन आशीर्वाद यात्रा पर सभी विपक्षी दल लगातार निशाना साध रहे हैं तो वहीं अब शिवसेना के संजय राउत ने भी भाजपा की जन आशीर्वाद यात्रा पर हमला करते हुए इसे कोरोना की तीसरी लहर का आमंत्रण ही बता दिया।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि भाजपा की इस राजनीतिक भीड़ से सभी को डर लग रहा है भाजपा की यह जन आशीर्वाद यात्रा कोरोना की तीसरी लहर को न्यौता है। संजय राउत ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि यह जन आशीर्वाद यात्रा तब की जा रही है जब इसकी कोई जरूरत ही नहीं है यह महाराष्ट्र में कोरोना की चिंताओं को बढ़ावा देगी।

वही संजय राउत के बयान के बाद अब भाजपा ने पलटवार किया है केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने शिवसेना सांसद के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि वे नहीं चाहते कि गरीब समाज एससी एसटी ओबीसी वर्ग के लोग आगे बढ़े कुछ लोगों ने नए मंत्रिमंडल का परिचय संसद में होने नहीं दिया और अब जब नए मंत्री जनता का आशीर्वाद लेने जनता के बीच जा रहे हैं तो उस पर कुछ राजनीतिक दल टिप्पणी करते हैं इससे शर्मिंदगी की बात और क्या होगी।

गौरतलब है कि भाजपा की है जन आशीर्वाद यात्रा को लेकर विपक्ष में हलचल मची हुई है यह जन आशीर्वाद यात्रा तक निकाली जा रही है जब अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हैं वहीं भाजपा अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के जरिए 2022 मैं उत्तर प्रदेश चुनाव और 2024 के लोकसभा चुनाव के सफर को मजबूत करना चाहती है।

MUST READ