सदन में महिलाओ को लेकर सीएम योगी ने कहा कुछ ऐसा कि अखिलेश भी हो गए हैरान , पूछा – आखिर नेता सदन यह सब कैसे जानते हैं ?लगे ठहाके

उत्तर प्रदेश विधानसभा में गुरुवार को महिलाओं को समर्पित विशेष सत्र का आयोजन किया गया । नेता सदन और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी प्रस्तावना रखते हुए कहा कि भारत के सबसे बड़े विधानमंडल का यह सत्र देश के सामने एक उदाहरण पेश करेगा कि आखिर महिला सदस्य क्या बोलना चाहती हैं । उन्होंने कहा कि प्रदेश के भविष्य , वर्तमान और स्वावलंबन के बारे में अगर महिला सदस्यों की ओर से कोई सकारात्मक सुझाव आता है तो उससे सरकार को जरूरी कदम उठाने में मदद मिलेगी ।इस दौरान सीएम योगी की बातो को लेकर नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने चुटकी ले ली।

दरअसल सीएम योगी ने कहा कि भारत के संविधान निर्माताओं ने पुरुषों के साथ – साथ महिलाओं को भी शुरू से ही मताधिकार दिया था । इंग्लैंड और दुनिया के कई अन्य देशों में महिलाओं को यह अधिकार भारत के बाद मिला । उन्होंने मजाकिया लहजे में कहा , ” मैं यहां पुरुष सदस्यों से ही कहूंगा कि सामान्य दिनों में आपके शोरगुल में महिलाओं की बात दब जाती थी । आज आपके लायक जो भी होगा , उसे स्वीकार करेंगे । अगर अपनी कोई गलती पता लगेगी तो घर में दोनों कान पकड़कर माफी मांग लीजिएगा और आगे सुधार लाइएगा , ताकि सदन को बेहतर ढंग से संचालित करने में मदद मिल सके ।

सीएम योगी के यह कहने पर सदन में जोरदार ठहाके लगे ।वहीं अखिलेश यादव ने सीएम योगी की चुटकी ले ली। नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने मजाकिया लहजे में पूछा , ” आखिर नेता सदन ( अविवाहित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ) यह सब बातें कैसे जानते हैं.अखिलेश के यह पूछने पर पक्ष और विपक्ष दोनों के सदस्य जमकर हंसने लगे।

MUST READ