श्रीनगर दौरे में पहुंचे राहुल गांधी ने कहा – मेरे परिवार ने भी पिया है झेलम का पानी, कश्मीरियत मेरे अंदर भी…

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी अपने दो दिवसीय दौरे पर जम्मू कश्मीर के श्रीनगर पहुंचे हैं जहां मंगलवार सुबह उन्होंने माता खीर भवानी के मंदिर पहुंचकर विधिवत पूजा अर्चना की तो वही हजरत बल दरगाह पहुंचकर सिर भी नवाजा। जिसके बाद राहुल गांधी सीधा एम ए रोड श्रीनगर स्थित कांग्रेस कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे वहीं उद्घाटन के बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित ।

श्रीनगर में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि अभी मेरा परिवार दिल्ली में रहता है वहीं दिल्ली से पहले मेरा परिवार इलाहाबाद में रहता था औऱ उससे पहले मेरा परिवार यहां रहता था। राहुल ने कहा कि मैं ज्यादा समय यहां नहीं आया हूं लेकिन मैं आपको थोड़ा समझता हूं। राहुल ने कहा कि मेरे परिवार के लोगों ने भी झेलम का पानी पिया है कश्मीरियत मेरे अंदर भी है। राहुल ने कहा कि जब मैं यहां आता हूं तो ऐसा महसूस होता है कि मैं अपने घर वापस आ रहा हूं।

राहुल गांधी ने जम्मू कश्मीर के लोगों की सराहना करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर का भाईचारा ही यहां की ताकत है और हिंदुस्तान की नींव में कश्मीरियत है। राहुल ने कहा कि जम्मू कश्मीर के लोगों से जो प्यार से हासिल किया जा सकता है वह नफरत से नहीं किया जा सकता।

वह राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर भी जमकर निशाना साधा । राहुल ने कहा कि आज सिर्फ जम्मू कश्मीर पर नहीं बल्कि पूरे देश में आक्रमण हो रहे हैं ।राहुल ने कहा कि सरकार द्वारा भारत में सभी संस्थानों पर हमले हो रहे हैं लोकतांत्रिक संविधान पर भी हमला हो रहा है। सदन में हमें बोलने नहीं दिया जाता हमारी आवाज को दबाया जा रहा है। राहुल ने कहा कि न्यायालय से लेकर मीडिया तक को दबाया जा रहा है प्रेस के लोग डरे हुए हैं। राजधानी कहां की जम्मू कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए और लोकतांत्रिक प्रक्रिया से चुनाव होना चाहिए।

राहुल गांधी ने कहा कि मैं जानता हूं कि जम्मू-कश्मीर के लोगों को दुख हुआ है लेकिन मैं आपके साथ इज्जत का और प्यार का रिश्ता चाहता हूं। राहुल गांधी ने कहा कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विचारधारा के विरुद्ध लड़ाई लड़ेंगे और उन्हें हराएंगे। राहुल गांधी ने कहा कि अभी मेरे और भी दौरे रहेंगे मैं जम्मू कश्मीर और लद्दाख के दौरे पर आऊंगा। राहुल ने कहा कि मेरा संदेश यही है कि मैं इज्जत और प्यार लेकर आया हूं और मैं चाहता हूं कि जम्मू कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा मिले।

MUST READ