भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई प्रियंका गाँधी, राहुल को एमपी में आखिर मिल गया बहन का साथ

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा तमिलनाडु से शुरू हुई थी जो कई राज्यों का सफर तय करते हुए अब मध्यप्रदेश पहुँच चुकी है। बुधवार को महाराष्ट्र से होते हुए भारत जोड़ो यात्रा का काफिला राहुल गाँधी की अगुवाई में बुरहानपुर के रास्ते मध्यप्रदेश की सीमाओं पर प्रवेश किया। मध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा का जोरदार स्वागत हुआ। वहीं आज गुरुवार को बोरगांव में राहुल को अपनी बहन प्रियंका का भी साथ मिल गया।

प्रियंका गाँधी भारत जोड़ो यात्रा में 78 दिनों बाद शामिल हुई हैं। प्रियंका ने आज राहुल के साथ कंधे से कंधे मिलाएं। प्रियंका के साथ उनके पति रॉबर्ट वाड्रा और बेटे रिहान भी मौजूद थे। इससे पहले कर्नाटक में सोनिया गाँधी ने राहुल का साथ दिया था। और अब प्रियंका ने भाजपा शासित राज्य मध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा की ताकत बढ़ाई है।

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के बाद प्रियंका ने कहा कि पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू जी देश की जनता से अक्सर कहा करते थे- एकजुट रहो, मिलजुल कर रहो। जहाँ एकजुटता और शांति नहीं होती, वहाँ कभी भी प्रगति नहीं हो सकती। यह महात्मा गांधी जी का दिखाया हुआ रास्ता है जिसे आज पूरी दुनिया स्वीकार करती है। भारत जोड़ो यात्रा बापू के दिखाए उसी रास्ते पर चलने का प्रयास है। राहुल गांधी जी और अन्य भारत यात्रियों के साथ आज मैं भी भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई।

बता दें भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश में 16 दिनों तक चलेगी और 380 किलोमीटर का सफर तय करेगी। इन दौरान मध्यप्रदेश के सात जिलों से होकर यह विशाल काफिला गुजरेगा। राहुल गाँधी उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर भी जायेंगे जहाँ वे महाकाल के दरबार में नतमस्तक होंगे।

MUST READ