नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के एक वर्ष पूरे होने पर पीएम मोदी ने किया संबोधित कहा- हमारा देश एक नए युग का करेगा साक्षात्कार

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को कैबिनेट द्वारा मंजूरी दिए जाने के 1 वर्ष पूरे होने पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल तरीके से देशवासियों को संबोधित किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले समय में जैसे-जैसे नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अलग-अलग फीचर्स वास्तविकता में बदलेंगे हमारा देश एक नए युग का साक्षात्कार करेगा।

देशवासियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बीते 1 साल में नई शिक्षा नीति को धरातल पर उतारने के लिए बहुत कार्य किया गया है कोरोना काल में ही इसे चरणबद्ध तरीके से लागू किया जा रहा है प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करना आजादी के अमृत महोत्सव का प्रमुख हिस्सा बन गया इतने बड़े महापर्व के बीच राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत आज शुरू हुई योजनाएं नए भारत के निर्माण में अहम भूमिका निभाएंगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 21वीं सदी का युवा अपनी व्यवस्थाएं अपनी दुनिया खुद अपने हिसाब से बनाना चाहता है इसलिए उसे पुराने बंधनो पिंजरे से मुक्ति चाहिए। पीएम ने कहा कि आज के युवाओं को एक्सपोजर चाहिए। उन्होंने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति युवाओं को विश्वास दिलाती है कि देश अब पूरी तरह से उनके साथ है। पीएम ने कहा कि हेल्थ हो डिफेंस हो इंफ्रास्ट्रक्चर हो या टेक्नोलॉजी हो देश को हर दिशा में समर्थ और आत्मनिर्भर बनना होगा उन्होंने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि 8 राज्यों के 14 इंजीनियरिंग कॉलेज पांच भारतीय भाषाओं, हिंदी, तमिल तेलुगू, मराठी और बांग्ला में इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू करने जा रहे हैं।

यही नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने दशकों से यह माहौल देखा है जब समझा जाता था कि अच्छी पढ़ाई करने के लिए विदेश जाना ही होगा लेकिन अच्छी पढ़ाई के लिए विदेशों से स्टूडेंट अच्छे संस्थानों में भारत आए यह अब हम देखने जा रहे हैं। पीएम ने कहा कि आज बन रही संभावनाओं को साकार करने के लिए देश के युवाओं को दुनिया से एक कदम आगे आना होगा।

MUST READ