गोवा के साओ जैसिंटो द्वीप में लोगो ने तिरंगा फहराने का किया विरोध,CM प्रमोद सावंत ने दिए कार्रवाई के निर्देश

देश कल अपना 75 वा स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा है। पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम की तैयारियां उत्साह के साथ की जा रही है। लेकिन इसी उत्साह के बीच गोवा से चौका देने वाली खबर सामने आ रही है। जहां साओ जैसिंटो द्वीप पर लोगों ने तिरंगा फहराए जाने का विरोध किया है जिसके बाद मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को विरोध करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश देने पड़े।

दरअसल नौसेना के द्वारा बताया गया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत स्वतंत्रता के 75 साल पूरा होने के उपलक्ष में रक्षा मंत्रालय ने 13 से 15 अगस्त 2021 के बीच देशभर के द्वीपो में राष्ट्रीय ध्वज फहराने की योजना तैयार की है लेकिन गोवा के जैसिंटो द्वीप पर इस कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा क्योंकि दीप के निवासियों ने तिरंगा फहराने का विरोध किया है।

दीप के निवासियों के विरोध के बाद मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक बताया है। मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नौसेना द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराए जाने पर कुछ लोगों ने आपत्ति जताई है मैं इसकी निंदा करता हूं। साथ ही प्रमोद सावंत ने कहा कि मैंने गृह विभाग को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि आज वहां (साओ जैसिंटो द्वीप) तिरंगा फहराया जाए और नौसेना अधिकारियों द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराने का विरोध करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

आखिर क्या है साओ जैसिंटो द्वीप में तिरंगा फहराने को लेकर विरोध की वजह

साओ जैसिंटो द्वीप के निवासियों का कहना है कि केंद्र या राज्य सरकार के अधिकारी वहां पर तिरंगा फहराया यह हम नहीं चाहते। दरअसल यहां के लोग संसद से पारित तटीय क्षेत्र प्रबंधन योजना और बंदरगाह प्राधिकरण विधेयक 2020 की वजह से परेशान हैं और इन कानूनों का विरोध कर रहे हैं जिसके चलते द्वीप में नौसेना की मौजूदगी पर इस कार्यक्रम का विरोध किया गया।

MUST READ