मुलायम सिंह को पद्म विभूषण का सम्मान , मिशन 80 के लिए मोदी सरकार का बड़ा प्लान !

समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव को मरणोपरांत पद्म विभूषण पुरूस्कार से सम्मानित किया गया है।बुधवार को गड्तंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर नागरिक सम्मानों का ऐलान किया गया। देश की कई हस्तियों को इस दौरान सम्मानित किया गया। लेकिन जैसे ही मुलायम सिंह यादव के नाम का ऐलान किया गया पूरा राजनीतिक हल्का चौक गया।

मुलायम सिंह यादव यूं तो तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री , देश के रक्षामंत्री और धरतीपुत्र के रूप में प्रसिद्ध थे। लेकिन इसके साथ ही वे विपक्षी दल के एक बड़े नेता भी थे। ऐसे में विपक्ष के नेता को देश के दूसरे सबसे बड़े नागरिक पुरूस्कार से सम्मानित कर एक बार फिर से मोदी सरकार ने सियासी पंडितो को हैरान कर दिया है।

मोदी सरकार का यह ऐलान अब सीधे तौर पर कहीं न कहीं 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। मुलायम की सियासी विरासत पर कब्ज़ा करने के लिए भाजपा कमर कस चुकी है। ऐसे में 80 लोकसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में यादव वोट बैंक को रिझाने के लिए यह भाजपा का बड़ा कदम माना जा रहा है।

इससे पहले मोदी सरकार पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भारत रत्न और कांग्रेस में 5 दशकों तक रहने वाले गुलाम नबी आजाद को भी पद्म विभूषण पुरूस्कार से सम्मानित कर सियासी हलके को चौका चुकी है।

MUST READ