Maharashtra Politics : महाराष्ट्र की सियासत में हुई ममता की एंट्री , गुवाहाटी में टीएमसी नेताओ ने रेडिसन ब्लू होटल के बाहर दिया धरना , क्या है दीदी का नया दांव !

महाराष्ट्र की सियासत में सूरत से आया तूफ़ान अब असम तक जा पहुंचा है। शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे अपने समर्थित विधायकों के साथ असम की राजधानी गुवाहाटी में रेडिसन ब्लू होटल में ठहरे हुए हैं। विधायकों की संख्या में लगातार इजाफा होते जा रहा है।शिवसेना के नेता मुंबई से लगातार बड़े दावे तो कर रहे हैं लेकिन सभी बागी विधायक अभी भी नॉट रिचबल हो नजर आ रहे हैं। इसी बीच महाराष्ट्र की राजनीति में ममता बनर्जी की एंट्री हो गई है।

गुवाहाटी के जिस रेडिसन ब्लू होटल में एकनाथ शिंदे और बागी विधायक ठहरे हुए हैं उस होटल के बाहर अब टीएमसी के नेता धरने पर बैठे हुए हैं। असम के टीएमसी प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा के नेतृत्व में टीएमसी कार्यकर्ताओ ने होटल के बाहर जमकर प्रदर्शन किया जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है। टीएमसी का यह प्रदर्शन असम के मुख्यमंत्री के खिलाफ है। टीएमसी का कहना है कि असम में बाढ़ के चलते 20 लाख लोग प्रभावित हैं और सीएम महाराष्ट्र सरकार गिराने में व्यस्त हैं।

क्या ममता ने परदे के पीछे से दिया शिवसेना का साथ ?

टीएमसी नेताओ का यह प्रदर्शन जाहिर तौर पर तो असम के मुख्यमंत्री के खिलाफ है लेकिन परदे के पीछे कहानी कुछ और भी चल रही है। जानकारों की माने तो महाराष्ट्र में आई इस सियासी आंधी के बीच ममता बनर्जी ने शिवसेना के लिए मदद के हाँथ बढ़ाएं हैं। ऐसे में असम में टीएमसी नेताओ एक यह प्रदर्शन उसी कड़ी का एक हिस्सा है। ममता बनर्जी लम्बे समय से विपक्ष को साधने की कोशिशों में जुटी हैं। ऐसे में अब शिवसेना के मुश्किल हालातो में ममता मदद का हाँथ बढ़ा एक नया दांव खेल रही हैं।

MUST READ