कुलदीप को बाहर रखने पर बोले कोहली – उनको टीम में ना चुनने का हमें कोई पछतावा नहीं !

कल भारत और इंग्लैंड के बीच पेहला टेस्ट मुकाबला शानदार अंदाज में खत्म हुआ और इंग्लैंड टीम ने भारत दौरे की जबरदस्त शुरुआत करते हुए विराट सेना को पहले ही मैच में करारी शिकस्त दे डाली। विराट कोहली की वापसी से टीम को काफी उम्मीद थी लेकिन जो रुट ने भारत की उम्मीदों पर पानी फेर दिया और 227 रनों से पहला टेस्ट मैच जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। लेकिन इसी के बीच अब भारत की हार और पहले मैच में टीम के चयन पर सवाल उठने शुरू हो चुके हैं। दरअसल भारत की प्लेइंग इलेवन में कुलदीप यादव को ना रखने पर बयानबाज़ी शुरू हो चुकी है और अब टीम के कप्तान विराट कोहली ने भी इसपर अपना जवाब देते हुए कहा है की उनको बाहर करने से हमें कोई पछतावा नहीं है।

मैच के बाद जब विराट कोहली से पूछा गया की उन्होंने कुलदीप को टीम में क्यों नहीं रखा तो उन्होंने सीधे तौर पर बोला – हमने काफी सोच समझकर उन्हें इलेवन से बाहर रखा था और इससे हमें कोई पछतावा नहीं है चाहे नतीजा हमारे पक्ष में नहीं आया क्योंकि टीम मैनेजमेंट ने सारी रणनीति तैयार करके उनको बाहर बिठाया था और हमारा यह फैसला बिलकुल सही था। विराट ने आगे कहा – हम पहले ही टीम में दो ऑफ स्पिनर लेकर जा रहे थे और ऐसे में अगर कुलदीप भी टीम में होते तो कोई फायदा नहीं होता क्योंकि उनकी गेंद भी पड़कर बाहर को ही निकलती है इसलिए हम कुछ अलग प्लानिंग के साथ जाना चाहते थे इसलिए मुझे नहीं लगता की हमने उनको बाहर रखकर कुछ गलत किया है।

हालांकि विराट कोहली अक्सर कुलदीप यादव की तारीफ करते हैं और टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले भी कोहली ने अपने बयान में खा था की कुलदीप टैलेंटेड गेंदबाज है और इस बार उनको इंग्लैंड के खिलाफ खेलने का मौका जरूर मिलेगा लेकिन पहले मैच मैं ऐसे नहीं हुआ। कोहली का कहना है की सबको समझदारी से काम लेने की जरूरत है क्योंकि हम सब शानदार खेल दिखाकर सीरीज को जीतना चाहते हैं इसलिए सबकी सोच के हिसाब से चलना पड़ता है। अगले मैच के बारे में कोहली ने कहा – हमारे पास समय है और हम देखेंगे की गलतियां कहां पर हुई है और सबको अपनी गलतियां भी सुधारनी होगी। हम कुलदीप के बारे में भी सोच रहे हैं और टीम मैनेजमेंट के हिसाब से देखेंगे की अगले मैच में उनको मौका देना है यां नहीं।

आपको बता दें की भारत और इंग्लैंड के बीच अगला टेस्ट मैच 13 फरवरी को चेन्नई में ही खेला जाना है जिसमें अब भारत की जगह इंग्लैंड का पलड़ा मजबूत नजर आ रहा है क्योंकि इंग्लैंड एशिया में जबरदस्त प्रदर्शन दिखा रहा है। इससे पहले इंग्लैंड श्रीलंका में जाकर टेस्ट सीरीज जीतकर आई थी। कप्तान रुट की अगुवाई में टीम का प्रदर्शन शानदार रहा है। विराट और टीम को सोचना होगा की अगले मैं में क्या बदलाव करने है और कैसे वापसी करनी है। हालांकि कोहली ने बताया था की – हमें पता है टेस्ट क्रिकेट में वापसी कैसे की जाती है। अब देखने वाली बात होगी की दूसरे टेस्ट मैच में दोनों टीमें किस रणनीति के साथ मैदान पर उतरेंगी और नतीजा किसके पक्ष में जाएगा।

MUST READ