इंग्लैंड के खिलाफ कोहली और पुजारा तोड़ सकते हैं सुनील गावस्कर का बड़ा रिकॉर्ड, देखें आंकड़े

भारत और इंग्लैंड के बीच 4 टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला 5 फरवरी को चेन्नई के मैदान पर खेला जाना है जिसके लिए दोनों ही टीमें वहां पहुंच चुकी है और अपनी तैयारियां भी शुरू कर दी है। टेस्ट मैच शुरू होने से पहले दोनों टीमों के खिलाड़ियों का 2 बार कोरोना टेस्ट भी हो चूका है जिसमें सभी खिलाड़ियों की रिपोर्ट नेगेटिव निकलकर आई है। अब इस सीरीज होने से पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और टीम की दीवार कहे जाने वाले चेतेश्वर पुजारा की नजर सुनील गावस्कर के बड़े रिकॉर्ड को तोड़ने पर होगी। बता दें की भारत के पूर्व बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने भारत की धरती पर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा रन अपने नाम किए हैं और इस बार कोहली और पुजारा के पास उनको पीछे छोड़ने का बड़ा मौका होगा।

आपको बता दें की सुनील गावस्कर ने अपने क्रिकेट करियर में इंग्लैंड के खिलाफ हमेशा शानदार प्रदर्शन दिखाया था। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ भारत में खेले अपने 22 टेस्ट मैचों में 1331 रन बनाए थे। गावस्कर के बाद इस लिस्ट में अगला नाम भारत के पूर्व बल्लेबाज गुंडप्पा विशवनाथ का आता है जिन्होंने 17 मैचों में शानदार औसत से 1022 रन अपने नाम किए थे। अब इन दोनों के रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए कोहली और पुजारा के पास 4 टेस्ट मैच होंगे। बता दें की किंग कोहली ने अबतक इंग्लैंड के खिलाफ भारत में 9 टेस्ट मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 843 रन अपने नाम किए है और वहीं पुजारा ने भी 9 टेस्ट मैच खेलकर 839 रन बनाए है। ऐसे में यह दोनों खिलाड़ी इस टेस्ट सीरीज में गावस्कर और विशवनाथ को पीछे छोड़ सकते है।

पिछली बार भी जब 2016 में इंग्लैंड ने भारत का दौरा किया था तो उस टेस्ट सीरीज में भी विराट कोहली और पुजारा जबरदस्त फॉर्म में दिखे थे। दोनों ने इंग्लैंड के गेंदबाजों के नाक में दम करके रख दिया था। 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में विराट का बल्ला लगातार बोला था और उन्होंने 110 की शानदार औसत से 655 रन बना डाले थे, वहीं पुजारा के बल्ले ने भी कमाल दिखाया था और टीम को जीत दिलाने में अहम योगदान दिया था। पुजारा ने उस टेस्ट सीरीज में शानदार बल्लेबाजी करते हुए 401 रन अपने नाम किए थे। इस बार भी टीम को इन दोनों खिलाड़ियों से उम्मीद होगी की पिछली बार की तरह इस बार भी खूब रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया में भी हाल ही में हुई टेस्ट सीरीज में पुजारा ने कई अहम पारियां खेली थी और टीम ने 2-1 से टेस्ट सीरीज जीती थी।

विराट कोहली और पुजारा के बल्ले से पिछले काफी समय से कोई शतक नहीं निकला है लेकिन कोरोना काल के बीच भारत में पहली टेस्ट सीरीज खेली जानी है तो अपने घर में इन दोनों खिलाड़ियों की नजर बड़े स्कोर बनाने पर होगी। अब देखना होगा की कप्तानी कोहली की वापसी से टीम इंडिया कितनी और मजबूत दिखती है क्योंकि कोहली कभी भी इंग्लैंड जैसी टीम को हल्के में लेने की कोशिश नहीं करेंगे। अब देखना होगा की जब मैच शुरू होगा तो दोनों ही कप्तान किस रणनीति के साथ मैदान पर उतरेंगे और मैच का नतीजा किसकी और जाएगा। बता दें की दूसरे टेस्ट मैच को देखने के लिए दर्शकों को भी अनुमति दी जा सकती है जिसके लिए लगातार BCCI की मीटिंग चल रही है।

MUST READ