गौतम अडानी को 20 दिनों में हुआ अरबो का नुकसान, इसी के साथ विश्व के टॉप 20 अमीरों की सूची से भी हुए बाहर

कारोबारी डेस्क:- अडानी ग्रुप के प्रमोटर और भारत के दूसरे सबसे अमीर अरबपति गौतम अडानी ने 20 दिनों से भी कम समय में 18.8 बिलियन डॉलर की भारी गिरावट के बाद दुनिया के अरबपतियों की सूची में अपना स्थान खो दिया है। अडानी के समूह की कंपनियों के शेयर 14 जून से फिसलन के रास्ते पर हैं। नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (NSDL) ने विदेशी निवेश फर्मों के खातों को फ्रीज कर दिया था, जिनकी अडानी की चार सूचीबद्ध कंपनियों – अडानी एंटरप्राइजेज, अडानी ग्रीन एनर्जी, अडानी में 43,500 करोड़ रुपये की हिस्सेदारी थी, के बाद निवेशक स्टॉक से दूर भाग रहे हैं।

India's 'infrastructure king' Gautam Adani knows a thing or two about  networking | Markets – Gulf News

फोर्ब्स रियल टाइम बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार, अडानी की काल्पनिक संपत्ति शुक्रवार को 56.1 बिलियन डॉलर थी, जो 14 जून की शुरुआत में 74.9 बिलियन डॉलर थी। इस गिरावट के कारण, अदानी शीर्ष 20 वैश्विक अरबपतियों की सूची से बाहर हो गए है। अकेले शुक्रवार को, गौतम अडानी की संपत्ति 3.7 बिलियन डॉलर गिर गई, जब समूह के 4 शेयरों में बीएसई पर लगभग 5% की गिरावट आई।

Adani Group Presentation_Dec 2014

फिलहाल अडानी सूची में 22वें स्थान पर हैं और इंटरनेट की दिग्गज कंपनी टेनसेंट होल्डिंग्स के चेयरमैन मा हुआटेंग शुक्रवार को उनसे आगे निकल गए। इस बीच, रिलायंस इंडस्ट्री लिमिटेड के प्रमुख मुकेश अंबानी ने शुक्रवार को अपनी संपत्ति में 70 करोड़ डॉलर जोड़े। 81.1 अरब डॉलर के साथ अंबानी एशिया के सबसे अमीर अरबपति बने हुए हैं। अडानी ग्रुप ने अकाउंट फ्रीजिंग की खबरों को “स्पष्ट रूप से गलत” और निवेशकों को गुमराह करने का एक जानबूझकर प्रयास करार दिया था।

MUST READ