बाउंसर हत्याकांड में पूर्व पत्रकार संजीव महाजन गिरफ्तार

नेशनल डेस्क:- बाउंसर सुरजीत सिंह की हत्या के मामले में पूर्व पत्रकार संजीव महाजन की ब्रेन मैपिंग, लाई डिटेक्टर टेस्ट और नार्को एनालिसिस टेस्ट कराने की याचिका को एक स्थानीय अदालत ने दो दिन के पुलिस रिमांड पर देते हुए खारिज कर दिया है। सेक्टर 37 संपत्ति हड़पने के मामले में पहले से न्यायिक हिरासत में चल रहे संजीव महाजन को अब कोर्ट से पेशी वारंट लेकर बाउंसर हत्याकांड में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Hyderabad: 5 including 3 Nigerians arrested for cheating

पुलिस ने तीन दिन की रिमांड मांगी थी, लेकिन कोर्ट ने दो दिन की रिमांड मंजूर कर ली। लोक अभियोजक ने तर्क दिया कि, मृतक सुरजीत सिंह की पत्नी द्वारा कथित तौर पर बयान दिए जाने के बाद कि, मामले में महाजन की भूमिका से इंकार नहीं किया जा सकता है, आरोपी से पूछताछ की जरूरत है। संपत्ति हड़पने के मामले में सुरजीत सिंह भी एक आरोपी था। संजीव महाजन के वकील राजेश शर्मा ने यह कहते हुए रिमांड का विरोध किया कि, महाजन को झूठे मामले में फंसाया जा रहा है।

Journalist Sanjiv Mahajan | The Asian Age

जब की वकील राजेश शर्मा ने कहा कि, घटना 16 मार्च, 2020 की है, लेकिन एक अन्य मामले में गिरफ्तार होने के बाद पुलिस अब महाजन की हिरासत की मांग कर रही है। उन्होंने दावा किया कि, जब तक महाजन को गिरफ्तार नहीं किया गया तब तक पुलिस को मृतक की पत्नी का बयान नहीं मिला। शर्मा ने अदालत से महाजन से पूछताछ के दौरान वकील को उपस्थित रहने की अनुमति देने और जांच अधिकारी को ऑडियो-वीडियो कैमरे के माध्यम से पूछताछ की कार्यवाही रिकॉर्ड करने और फुटेज की एक प्रति जमा करने का निर्देश देने की मांग की।

उन्होंने मांग की कि, आरोपियों की मेडिकल जांच के लिए भी निर्देश जारी किया जाए, जिस पर कोर्ट ने सहमति जताई। अदालत ने पुलिस को पूछताछ के दौरान आरोपी को उसके वकील से मिलने देने का भी निर्देश दिया। इस बीच, अदालत ने कथित संपत्ति हड़पने के मामले में फरार एक आरोपी दलजीत सिंह रूबल को अंतरिम अग्रिम जमानत दे दी है।

MUST READ