मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना सज्जाद नोमानी का विवादित बयान, कहा – तालिबान के हौसले को हिंदी मुसलमान करता है..

अफगानिस्तान में तालिबान का कहर जारी है काबुल में कब्जे के बाद तालिबानी लड़ाकों की अब क्रुरता की तस्वीरें भी धीरे-धीरे सामने आने लगी है। तालिबानी लड़ाकों ने अफगानिस्तान की आवाम पर जुल्म ढाना भी शुरू कर दिए हैं। इसी बीच अफगानिस्तान में तालिबानी हुकूमत को लेकर हिंदुस्तान में भी सियासत गर्म होती नजर आ रही है। लेकिन यह सियासी पारा तालिबान के विरुद्ध नहीं बल्कि कुछ लोगों के तथाकथित तौर पर आतंकी संगठन तालिबान के समर्थन को लेकर चढ़ रहा है।

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना सज्जाद नोमानी ने तालिबान को लेकर कुछ ऐसा कहा जिसे सुनकर कोई भी चौक जाए। सज्जाद नोमानी ने अफगानिस्तान में तालिबान को कब्जा करने के लिए मुबारकबाद दी है। यही नहीं सज्जाद नोमानी ने तालिबान को कहा कि आपका दूर बैठा हुआ यह हिंदी मुसलमान आप को सलाम करता है। आपके हौसले को सलाम करता है। सज्जाद नोमानी ने बयान जारी करते हुए तालिबान के लिए जमकर कसीदे पढ़े। मौलाना सज्जाद नोमानी ने कहा कि जिस किसी ने भी देश को छोड़कर जाना चाहा आपने उसे जाने दिया। पूरे देश में बदसलूकी का एक भी मामला नहीं आया ना ही किसी प्रकार की धार्मिक हिंसा की गई और आज के दिन ही बाजार भी खुल गए बच्चियां स्कूल जाती हुई नजर आ रही हैं

बता दें कि मौलाना सज्जाद नोमानी से पहले उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने भी तालिबान का समर्थन किया था वहीं उन्होंने तालिबान लड़ाकों की तुलना हिंदुस्तान की आजादी से की थी जिसके बाद सपा सांसद के विरुद्ध मामला भी दर्ज कराया गया वह मामला दर्ज होने के बाद भी बयान से पलटते हुए नजर आए और उन्होंने कहा कि वे हिंदुस्तान की सरकार की नीतियों का समर्थन करते हैं अफगानिस्तान में क्या चल रहा है इससे उनका कोई सरोकार नहीं है।

MUST READ