क्या T20 वर्ल्ड कप के लिए हो सकती है रविचंद्रन अश्विन की वापसी

Liberal Sports Desk : भारत की टेस्ट टीम के स्थाई स्पिनर रविचंद्रन अश्विन भारतीय टीम के लिए टेस्ट मैच में तो एक अमोघ बाण बनकर साबित हुए हैं। लेकिन लिमिटेड ओवर क्रिकेट में रविचंद्रन अश्विन अब भारत के प्लान का हिस्सा नजर नहीं आते।लेकिन अब सवाल उठ रहा है कि क्या आगामी अक्टूबर माह में होने वाले T20 वर्ल्ड कप में रविचंद्रन अश्विन की वापसी हो सकती है। इस आर्टिकल में हम उन कारणों को बताएंगे जिस कारण से रविचंद्रन अश्विन T20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का हिस्सा बन सकते हैं।

2016 से भारत की लिमिटेड ओवर क्रिकेट में नहीं खेले हैं रविचंद्रन अश्विन

रविचंद्रन अश्विन ने भारतीय टीम के लिए वनडे और टी-20 क्रिकेट काफी खेला है। रविचंद्रन अश्विन ने 2011 और 2015 विश्व कप भी भारतीय टीम के लिए खेले हैं। और कई T20 वर्ल्ड कप भी भारतीय टीम के लिए खेले हैं।लेकिन भारतीय टीम में यूज़वेंद्र चहल और कुलदीप यादव के आने के बाद रविचंद्रन अश्विन को टीम से बाहर कर दिया गया। और 2016 के बाद से रविचंद्रन अश्विन को दोबारा भारतीय टीम में मौका नहीं मिला। हालांकि इस दौरान वह टेस्ट मैच में अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम के लिए अहम हिस्सा बनकर साबित हुए हैं।

रविचंद्रन अश्विन के एकदिवसीय व T20 अनुभव की बात की जाए तो रविचंद्रन अश्विन शानदार गेंदबाज हैं। और भारतीय टीम में जिस तरह से यूज़वेंद्र चहल, कुलदीप यादव,राहुल चाहर,इन स्पिनरों को भारत T20 वर्ल्ड कप में खिलाने के लिए सोच रहा है। लेकिन रविचंद्रन अश्विन भी भारतीय टीम के लिए T20 वर्ल्ड कप में खिलाड़ी के रूप में शामिल हो सकते हैं।

दो कारण जिससे T20 वर्ल्ड कप में रविचंद्रन अश्विन हो सकते हैं भारतीय टीम में शामिल

रविचंद्रन अश्विन एक अनुभवी स्पिन गेंदबाज हैं और भारतीय टीम इस समय स्पिन गेंदबाजी को लेकर काफी चिंतित नजर आ रही है। युजवेंद्र चहल इस समय उस फॉर्म में नजर नहीं आ रहे हैं जिस फॉर्म में वह हुआ करते थे।युजवेंद्र चहल की खराब फॉर्म को देखते हुए ही भारतीय टीम कई स्पिनरों को आजमा रही है। ऐसे में भारतीय टीम रविचंद्रन अश्विन की ओर भी देख सकती है।

रविचंद्रन अश्विन का T20 फॉर्मेट में अनुभव T20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के लिए हो सकता है अहम

यदि अनुभव के लिहाज से देखें तो रविचंद्रन अश्विन भारतीय टीम को T20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के लिए अहम साबित हो सकते हैं। टी-20 वर्ल्ड कप के लिहाज से देखा जाए तो रविचंद्रन अश्विन पूर्ण रूप से भारतीय टीम में शामिल होने के लिए अपना जोर जरूर लगाएंगे रविचंद्रन अश्विन को T20 का अच्छा खासा अनुभव प्राप्त है इस लिहाज से यूएई की धीमी पिचों पर रविचंद्रन अश्विन भारत के लिए तुरुप का इक्का भी साबित हो सकते हैं।

चयनकर्ता व टीम मैनेजमेंट क्या रविचंद्रन अश्विन के ऊपर जता पाएंगे भरोसा

यदि चयनकर्ता व टीम मैनेजमेंट के लिहाज से सोचा जाए तो क्या T20 वर्ल्ड कप को लेकर मैनेजमेंट व चयनकर्ता रविचंद्रन अश्विन को नजरअंदाज भी कर सकते हैं। क्योंकि चयनकर्ता व टीम मैनेजमेंट की सोच यह भी है कि युवा खिलाड़ियों को टीम में मौका मिले लेकिन रविचंद्रन अश्विन के पास अनुभव भी है और वह इस समय शानदार फॉर्म में भी है इस लिहाज से रविचंद्रन अश्विन की ओर भी चयनकर्ताओं को रुख करना चाहिए।

रविचंद्रन अश्विन के लिए आईपीएल बन सकता है T20 वर्ल्ड कप में स्थान बनाने का मौका

यदि रविचंद्रन अश्विन के लिहाज से देखा जाए तो वर्ल्ड कप से ठीक पहले आईपीएल का दूसरे हिस्से का आयोजन होने रविचंद्रन अश्विन दिल्ली कैपिटल की टीम से खेल रहे हैं इस लिहाज से रविचंद्रन अश्विन यदि आईपीएल में बेहतर प्रदर्शन करते हैं तो वह अपने लिए T20 वर्ल्ड कप के दरवाजे खोल सकते हैं।

MUST READ