बंगाल चुनाव के बाद हुई हिंसा पर कोर्ट के फैसले का भाजपा ने किया स्वागत ,कहा – अदालत के फैसले ने खोली सरकार की पोल

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों के बाद हुई भारी हिंसा में कोलकाता हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है जिसमें कोर्ट ने अपनी निगरानी में सीबीआई जांच के निर्देश दे दिए हैं वहीं कोर्ट के इस फैसले पर सियासी जगत से बयान आना भी शुरू हो गए भारतीय जनता पार्टी की ओर से कोलकाता हाईकोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया गया है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों के बाद हिंसा राज्य सरकार के समर्थन में हुई थी कोलकाता हाईकोर्ट के फैसले ने सरकार की पोल खोल दी है हम अदालत के इस फैसले का स्वागत करते हैं। वहीं केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी कोलकाता हाईकोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपने विचारों को फैलाने का अधिकार है लेकिन किसी को भी हिंसा फैलाने का अधिकार नहीं है लोकतंत्र में हिंसा की कोई जगह नहीं है।

एक और जहां भारतीय जनता पार्टी की ओर से अदालत के फैसले का स्वागत किया जा रहा है तो वही तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि वे फैसले से नाखुश हैं। तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत रॉय ने कहा कि ” मैं फैसले से नाखुश हूं। यदि हर कानून और व्यवस्था के मामले में जो पूरी तरह से राज्य सरकार के अधिकार क्षेत्र में है, सीबीआई इसमें आती है तो यह राज्य के अधिकार का उल्लंघन है। मुझे यकीन है कि राज्य सरकार स्थिति का न्याय करेगी और यदि आवश्यक हो तो उच्च न्यायालय में अपील करने का निर्णय लेगी।

बहरहाल अदालत अपना फैसला सुना चुकी है और अब अदालत के फैसले के बाद सियासी गलियारों में चर्चा भी शुरू हो गई है। अब देखना यह होगा कि मुश्किल में फंसती नजर आ रही ममता सरकार का अगला कदम क्या होगा।

MUST READ