माँ काली को मांस खाने और शराब पीने वाला बताकर बुरी फंसी सांसद महुआ मोइत्रा , टीएमसी ने खुद की बयान की निंदा

टीएमसी सांसद महुआ मोईत्रा और विवादों का पुराना रिश्ता है। महुआ मोइत्रा अपने किसी न किसी ट्वीट या बयान को लेकर अक्सर ही चर्चाओं में बनी रहती हैं लेकिन अब उनका ही एक बयान उनके लिए कई मुश्किलें खड़ा करता नजर आ रहा है। दरअसल एक फिल्म के पोस्टर को लेकर मचे विवाद पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए महुआ मोइत्रा ने माँ काली के खिलाफ को लेकर विवादित बयान दे दिया। महुआ मोइत्रा ने कहा कि वह माँ काली को शराब पीने वाली और मांस खाने वाली देवी के रूप में देखती हैं। महुआ मोइत्रा के इस बयान के बाद बवाल मच गया। सोशल मीडिया में उनकी जमकर आलोचना हो रही है वहीँ महुआ के खिलाफ करवाई की मांग भी की जा रही है।

टीएमसी ने खुद की बयान की निन्दा

महुआ मोइत्रा के इस बयान की निंदा खुद उनकी ही पार्टी टीएमसी के द्वारा की गई है। टीएमसी ने ट्वीट करते हुए कहा कि महुआ मोइत्रा द्वारा की गई टिप्पणियां और देवी काली पर व्यक्त उनके विचार उनकी व्यक्तिगत क्षमता में बनाए गए हैं और पार्टी द्वारा किसी भी रूप या रूप में समर्थित नहीं हैं। अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस इस तरह की टिप्पणियों की कड़ी निंदा करती है।

हालाँकि महुआ मोइत्रा ने अपने इस बयान पर सफाई दी है। महुआ ने कहा कि आप सभी संघियों के लिए- झूठ बोलना आपको बेहतर हिंदू नहीं बना देगा।मैंने कभी किसी फिल्म या पोस्टर का समर्थन नहीं किया या धूम्रपान शब्द का उल्लेख नहीं किया।सुझाव है कि आप तारापीठ में मेरी माँ काली के पास जाएँ, यह देखने के लिए कि भोग के रूप में क्या खाना-पीना दिया जाता है।इसके साथ ही महुआ मोइत्रा ने कहा कि ‘जॉय मां तारा’

क्या है पोस्टर विवाद

दरअसल फिल्म डायरेक्टर लेना मणिमेकलई की एक फिल्म का पोस्टर सामने आया है जिसमे माँ काली को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। इस फिल्म के पोस्टर के खिलाफ जमकर आक्रोश देखा जा रहा है। वहीँ दिल्ली और यूपी में मामला भी दर्ज कराया जा चुका है। महुआ मोइत्रा की प्रतिक्रिया इसी फिल्म को लेकर दी गई थी। हालाँकि बयान अब विवादों में घिर चुका है।

MUST READ