इस्तीफे के बाद रुपाणी ने जताया पार्टी का आभार ,बताई सीएम पद त्यागने की वजह

गुजरात में शनिवार का दिन एक बड़ा सियासी बदलाव लेकर आया इस बात का किसी को भी अंदेशा नहीं था कि गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी अपना इस्तीफा देने जा रहे हैं लेकिन अचानक शनिवार को उन्होंने सीएम पद से इस्तीफा देकर राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी। विजय रुपाणी ने गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत को अपना इस्तीफा सौंपा जिसके बाद उन्होंने पत्रकारों से बातचीत की जहां उन्होंने पार्टी के प्रति अपना आभार जताया तो सीएम पद त्यागने की उन्होंने वजह भी साफ की।

विजय रुपाणी ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि मैं भारतीय जनता पार्टी के प्रति अपना आभार व्यक्त करता हूं जिसने मेरे जैसे एक कार्यकर्ता को गुजरात के मुख्यमंत्री जैसे महत्वपूर्ण पद की जिम्मेदारी सौंपी। रुपाणी ने कहा कि मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी संभालते हुए मेरे कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विशेष मार्गदर्शन मिलता रहा है। विजय रुपाणी ने कहा कि पिछले 5 सालों में मुझे गुजरात के विकास में अपनी भूमिका निभाने का जो अवसर मिला उसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभारी हूं।

विजय रुपाणी ने कहा कि मेरा यह मानना है कि अब गुजरात के विकास की है यात्रा प्रधानमंत्री के नेतृत्व में एक नए उत्साह नई ऊर्जा के साथ नए नेतृत्व में आंगे बढ़नी चाहिए यह ध्यान रख कर मैंने गुजरात के मुख्यमंत्री पद के दायित्व से त्यागपत्र दिया है । रुपाणी ने कहा कि भाजपा की यह परंपरा रही है कि समय के साथ पार्टी के कार्यकर्ताओं के दायित्व भी बदलते रहते हैं। यह हमारी पार्टी के विशेषता है कि जो दायित्व पार्टी के द्वारा दिया जाता है पार्टी कार्यकर्ता पूरे मनोभाव से वह निभाता है । रुपाणी ने कहा कि मुख्यमंत्री पद के दायित्व का निर्वहन करने के बाद मैंने मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र देकर पार्टी के संगठन में नई ऊर्जा के साथ काम करने की इच्छा भी जताई है। इसके साथ ही विजय रुपाणी ने गुजरात की जनता का भी आभार जताया। वहीं बता दें कि आप गुजरात में नए सीएम के चेहरे को लेकर भी कवायद शुरू हो गई है जिसको लेकर अब पार्टी मंथन में जुट गई है।

MUST READ