विवादित बयानों के बाद बदले मुनव्वर राणा, कहा- मैं पीएम मोदी से करता हूँ इश्क ,योगी नहीं सीख पाए…

मशहूर शायर मुनव्वर राणा का विवादों से हमेशा से नाता रहा है चाहे अवार्ड वापसी की बात हो ,उत्तर प्रदेश में मुसलमानो की बात हो सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर विवादित बयानों की बात हो। मुनव्वर अक्सर विवादित गलियारों में भटकते नजर आते हैं तो हाल ही तालिबान पर बयान देकर एक बार फिर मुनव्वर विवादों में घिर गए हैं मुनव्वर राणा ने हालही में दिए अपने बयानों में तालिबान का समर्थन करते हुए कहा था की तालिबान ने अपने मुल्क को आजाद कराया है वहीँ उन्होंने कहा था की उत्तर प्रदेश को छोड़कर जाने का दिल करता है लेकिन अब इन तमाम बयानों के बाद अचानक शायर के सुर बदलने लगे हैं। तालिबान के कसीदे छोड़कर अब मुनव्वर राणा पीएम मोदी से अपने इश्क का ब्यान कर रहे हैं.

एक इंटरव्यू के दौरान मुवव्वर राणा ने कहा मैं मोदी जी को पसंद करता हूँ यह मेरी कमजोरी है मैं उनसे इश्क करता हूँ। राणा ने कहा की जब मैंने अवार्ड वापस किया पीएम मोदी मुझसे नाराज थे लेकिन मेरी मां के मरने पर पीएम मोदी ने खत लिखा था. इस पर मैं अपने अंदर से बहुत शर्मिंदा हुआ मैला हुआ. मुनव्वर राणा ने कहा मेरी कोई हैसियत नहीं है लेकिन उन्होंने मेरी मां के मरने पर मुझे खत लिखा। जब मैं उनसे मिलना गया तो मैंने कहा कहा मैं इसलिए आया हूँ क्योंकि जब आपने मेरी माँ के मरने पर खत लिखा। मैं शर्मिदा हुआ की मुझे आपने बुलाया था लेकिन मैं नहीं आ पाया था। राणा ने बताया मैंने पीएम से कहा की आपका नारा सबका साथ सबका विकास अगर यह सच्चे तौर पर अमल हो जाये तो मैं आपको इतिहास के पन्नो पर सम्राट अशोक की तरह देखना चाहता हूँ ।राणा ने कहा मुझसे पीएम मोदी ने तक़रीबन 20 मिनट मुलाकात हुई थी मुझे बहुत अच्छा लगा था

योगी नहीं सीख पाए मोहब्बत करना

वहीँ उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को लेकर मुनव्वर राणा ने कहा की वे मठ के आदमी हैं वे योगी हैं लेकिन जब आदमी सत्ता में आता है तो हिन्दू मुसलमान भूल जाता है और सबसे मोहब्बत करना सीख जाता है लेकिन योगी अभी यह नहीं कर पाएं हैं. लेकिन अगर वे प्रधानमन्त्री बन जाएँ तो शायद सुधर जाएँ।

MUST READ