IPL के 3 ऐसे खिलाड़ी जो RCB से निकलकर बन गए खतरनाक, एक ने अपनी टीम को बना दिया चैंपियन

आईपीएल एक ऐसा टी 20 टूर्नामेंट है जिसका हिस्सा बनना हर खिलाड़ी का सपना होता है। आईपीएल में खेलने वाले खिलाड़ियों पर करोड़ों रुपये लगाए जाते हैं और फिर इसी टूर्नामेंट में अपने आप को साबित करके खिलाड़ी अपनी टीम की तरफ से इंटरनेशनल क्रिकेट में भी धमाल मचाते हैं। लेकिन कुछ ऐसी टीमें है जिन्होंने कुछ खिलाड़ियों के टैलेंट को नहीं पहचाना और बाद में वही खिलाड़ी किसी और टीम में जाकर खतरनाक साबित हुए। बात अगर कोहली की कप्तानी वाली टीम RCB की करें तो इस टीम ने कई खिलाड़ियों को अलग पहचान दी। इस लेख में हम आपको ऐसे 3 खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिन्हें बैंगलोर ने रिलीज़ तो कर दिया लेकिन बाद में वो खिलाड़ी दूसरी टीमों के लिए मसीहा बनकर साबित हुए।

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम है टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज राहुल का जो अपनी शानदार बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। मौजूदा समय में राहुल आईपीएल में पंजाब किंग्स की कप्तानी कर रहे हैं लेकिन उन्होंने कोहली की कप्तानी में RCB के लिए बभी अहम योगदान दिया है लेकिन RCB ने उनका टैलेंट नहीं पहचाना और उन्हें अपनी टीम से रिलीज़ कर दिया। बता दें कि राहुल ने कोहली की कप्तानी में RCB के लिए 19 मैच खेले हैं जिनमें उनका प्रदर्शन शानदार रहा है और उन्होंने 37 की जबरदस्त औसत से 417 रन बनाए हैं। इसी दौरान राहुल के बल्ले से 4 अर्धशतक भी देखने को मिले। राहुल ने 2016 तक RCB के लिए खेला और फिर 2018 की नीलामी में RCB ने इस खिलाड़ी को अपनी टीम से रिलीज़ कर दिया। आज पंजाब किंग्स राहुल की अगुवाई में आईपीएल खेलती है और राहुल पंजाब के लिए शानदार खेल दिखा रहे हैं।

इस खास सूचि में अगला नाम क्विंटन डी कॉक का है जो मौजूदा समय में आईपीएल में मुंबई इंडियंस टीम का अहम हिस्सा हैं। साल 2018 में बैंगलोर ने डी कॉक को अपनी टीम में शामिल किया और इस खिलाड़ी ने कोहली की कप्तानी में टीम की तरफ से ओपनिंग करते हुए अपना शानदार खेल दिखाया। डी कॉक ने RCB के लिए 2018 सीजन में 8 मुकाबले खेलते हुए करीब 22 की औसत से 201 रन ही बनाए थे। हालांकि डी कॉक के बल्ले से कोई बड़ी पारी नहीं देखने को मिली और वह टीम के लिए एक ही अर्धशतक लगा सके। अगले साल 2019 में डी कॉक को बैंगलोर से बाहर कर दिया गया और यह बल्लेबाज सबसे खतरनाक मुंबई इंडियंस टीम का हिस्सा बना और डी कॉक ने उस साल जबरदस्त खेल दिखाते हुए टीम को आईपीएल ट्रॉफी दिलाने में अहम योगदान दिया था। बता दें की मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा डी कॉक पर काफी भरोसा रखते हैं।

इस खास लिस्ट में अगला नाम है दिनेश कार्तिक का जो मौजूदा समय में आईपीएल में कोलकाता टीम की तरफ से खेलते हैं। कार्तिक को भी आईपीएल 2015 में विराट कोहली की कप्तानी में खेलने का मौका मिला था लेकिन बैंगलोर की तरफ से कार्तिक का बल्ला कुछ खास फॉर्म में नजर नहीं आया। उन्होंने टीम के लिए 16 मैच खेलते हुए सिर्फ 141 रन ही बनाए जिसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था। कार्तिक ने अगले ही साल बैंगलोर के फैसले को गलत साबित किया और गुजरात लायंस का हिस्सा बनकर अपने बल्ले का दम दिखाया। फिर 2018 में कार्तिक को कोलकाता का साथ मिला और उन्हें कप्तानी भी दी गई। कार्तिक ने कोलकाता के लिए भी खूब रन बनाए लेकिन पिछले एक साल से इस खिलाड़ी का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। आप कार्तिक की नजर आईपीएल 2021 पर टिकी हुई है और वहां से यह खिलाड़ी टीम इंडिया में वापसी करना चाहेगा।

MUST READ