हरियाणा के पूर्व वित्त मंत्री ने भाजपा की सदस्यता ठुकराई, बोले- पार्टी पहले किसानों के मुद्दों का…

26 जून को किसान आंदोलन के 7 महीने पूरे हुए थे। जिसको लेकर किसानों ने देश के अलग- अलग राज्यों के राज्यपाल को एक चिट्टी लिखी थी कि तीनों कृषि बिलों के केंद्र सरकार वापस ले। ऐसे में अब हरियाणा के पूर्व वित्त मंत्री संपत सिंह ने भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी का पद ठुकरा दिया है। वही इस सारे मामले को लेकर संपत सिंह ने ट्वीट भी किया है।

दरअसल, संपत सिंह ने अब कार्यकारिणी में शामिल होने से इनकार कर दिया है। हरियाणा में कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन सात महीने से चल रहा है। इस संदर्भ में सत्तारूढ़ भाजपा और जजपा नेताओं के खिलाफ कई हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए हैं। पूर्व वित्त मंत्री संपत सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा, “प्रिय धनखड़ जी, वर्तमान राजनीतिक स्थिति के कारण, मैं राज्य कार्यकारिणी की सदस्यता स्वीकार नहीं कर सकता। पार्टी को पहले किसानों की समस्याओं का समाधान निकालना चाहिए, जिसका मैंने लगातार समर्थन किया है। बंद कमरे की पुलिस सुरक्षा में राजनीति असंभव है।

गौरतलब है कि संपत सिंह इनेलो सरकार के दौरान राज्य के वित्त मंत्री थे। बाद में वह कांग्रेस में शामिल हो गए। हिसार पहले ही कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा और नलवा विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ चुका है।

MUST READ