सुप्रीम कोर्ट ने दिए केंद्र को निर्देश, कोरोना से मरने वालों को सरकार दे इतना मुआवजा

देश में कोरोना वायरस की वजह से हजारों लोगों ने अपनों को खोया। वही अब देश की शीर्ष अदालत ने सरकार को निर्देश दिया है कि वह कोरोना पीड़ितों के परिवार के सदस्यों को मुआवजा दे। बता दें कि पिछले कुछ महीनों में कोरोना वायरस के कारण देश के हालात चिंताजनवक बने हुए थे। जिसके बाद खुद कोर्ट ने भी केंद्र सरकार के काम को लेकर जोरदार फटकार लगाई थी।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को निर्देश जारी कर दिए है कि वह कोरोना पीड़ितों के परिवार के सदस्यों को मुआवजा दे। हालांकि, अदालत ने मुआवजे की राशि तय नहीं की है।अदालत ने उन लोगों के परिवारों को मुआवजे के लिए दिशा-निर्देश तैयार करने का भी निर्देश दिया है, जिन्होंने अपनी जान गंवाई है कोरोना की वजह से। सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को निर्देश देते हुए मारे गए लोगों के परिवारों को 4 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग है।

वही कोर्ट ने कहा है किअदालत ने निर्देश दिया है कि मुआवजा तय करना एनडीएमए का कर्तव्य है। उसे छह सप्ताह के भीतर राज्यों को निर्देश देना है। खुद फैसला करें, जैसा कि उसे कुछ अन्य आवश्यक खर्च भी करने पड़ते हैं, साथ ही मृत्यु प्रमाण पत्र प्राप्त करने की प्रक्रिया को सरल बनाया जाना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर कोरोना से जान गंवाने वाले मरीजों के परिवारों को सरकार की ओर से 4 लाख रुपये की आर्थिक मदद की मांग की गई है। हालांकि सरकार की दलील थी कि इससे राज्यों का आपदा राहत कोष खाली हो जाएगा।

MUST READ