श्रीलंका के खिलाड़ियों ने किया शर्मनाक काम, अर्जुन रणतुंगा बोले – मैं कप्तान होता तो मार देता थपड़

श्रीलंका की सीनियर टीम इंग्लैंड दौरे पर है टीम के लिए कुछ भी सही नहीं जा रहा है। पहले श्रीलंका टीम ने टी-20 सीरीज में मेजबान टीम के सामने घुटने टेके और 3-0 से सीरीज गंवानी पड़ी और अब 3 मैचों की वनडे सीरीज में भी श्रीलंका पहले दो मुकाबले हार चुकी है। इसी के बीच श्रीलंका के खिलाडियों का एक ऐसा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे देखकर क्रिकेट फैंस भी इन खिलाड़ियों की जमकर क्लास लगा रहे हैं। दरअसल तीसरा टी 20 मैच हारने के बाद श्रीलंका के दो खिलाड़ी कुसल मेंडिस और निरोशन डिकवेला इंग्लैंड की सड़कों पर घूमते हुए दिखे और उन्होंने स्मोकिंग करने की कोशिश भी की जिसका वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इसी के बीच अब श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने इन खिलाड़ियों पर जमकर गुस्सा निकालते हुए कहा अगर मैं टीम का कप्तान होता तो शायद उन्हें 2-3 थपड़ भी लगा चुका होता।

आपको बता दें की श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने टीम के खिलाड़ियों की इस हारकर को शर्मनाक बताते हुए कहा – आज कल के खिलाड़ी सिर्फ मशहूर होना चाहते हैं और उसके लिए वह कुछ भी करने को तैयार रहते है लेकिन उन्हें बाद में इसका नतीजा भुगतना पड़ता है। क्रिकेट बोर्ड को ऐसे खिलाड़ियों पर सख्त करवाई करना चाहिए जिससे वह आगे जाकर कभी ऐसी गलती ना करे। ऐसी हरकतें क्रिकेट को बदनाम करती है और देश का नाम भी खराब होता है। मुझे नहीं खिलाड़ियों को टीम में खेलना का भी मौका मिलना चाहिए।

आपको बता दें की कोरोना के बीच टीम के खिलाड़ियों को एक बायो बबल के बीच रहना होता है और इन खिलाड़ियों ने नियमों की उलंघना भी की है जिसके बाद श्रीलंका बोर्ड ने इस वीडियो को देखते हुए इन दोनों खिलाड़ियों को इंग्लैंड से वापस भी बुला लिया और इनके ऊपर करवाई करनी भी शुरू कर दी है जिसके चलते अब यह दोनों खिलाड़ी इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज भी नहीं खेल पाएंगे। यह दोनों ही खिलाड़ी अपने होटल से बाहर निकलकर डरहम की सड़कों पर घूमते हुए दिखे जिसके बाद इनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया है। इनके साथ ही साथी खिलाड़ी दनुष्का गुणतिलका भी थे और अब श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने तीनो पर एक साल का बैन भी लगा दिया है।

MUST READ