श्रीलंका का पूर्व कप्तान गुस्से में बोला – भारत की दूसरे दर्जे की टीम के साथ खेलना हमारे देश के लिए अपमान

शिखर धवन की अगुवाई में टीम इंडिया श्रीलंका दौरे पर है यहां भारत को मेजबान टीम के खिलाफ 3 वनडे और 3 ही टी 20 जिसकी शुरुआत 13 जुलाई से होगी। इसी के बीच श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने अपने क्रिकेट बोर्ड पर निशाने साधते हुए कहा है की भारत अपनी दूसरे दर्जे की टीम श्रीलंका भेज रहा है जिसकी मेजबानी करना हमारे क्रिकेट के लिए किसी अपमान से कम नहीं है क्योंकि हम अपनी सीनियर टीम उतारेंगे और टीम इंडिया में कुछ ऐसे खिलाड़ी शामिल होंगे जिन्होंने अभी तक कोई भी इंटरनेशनल मुकाबला नहीं खेला है।

अर्जुन रणतुंगा ने आगे कहा – हमारा क्रिकेट बोर्ड बीएस टीवी मार्केटिंग की खातिर ही यह मुकाबले करवा रहा है लेकिन मुझे लगता है कि अगर कोई अपनी दूसरी श्रेणी की टीम भेज रहा है और हम उनकी मेजबानी कर रहे हैं तो यह हमारे देश के लिए सही नहीं है और ना ही इन मैचों में कोई रोमांच नजर आएगा। आपको बता दें कि भारत के इतिहास में पहली बार होगा जब भारत की दो क्रिकेट टीमें अलग अलग जगह इंटरनेशनल मुकाबले खेलेगी क्योंकि विराट की कप्तानी में टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलेगी और शिखर धवन की कप्तानी में टीम श्रीलंका में वनडे सीरीज खेल रही होगी।

हालांकि BCCI ने भी पहले ही ऐलान कर दिया था कि जो टीम इंग्लैंड जाकर टेस्ट चैंपियनशिप और इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी उसमें से कोई भी खिलाड़ी श्रीलंका नहीं जाएगा और अब वही हुआ भी है। कोहली मकई गैरहाजरी में धवन को टीम का कप्तान बनाया गया है और राहुल द्रविड़ को टीम का हेड कोच बनाकर श्रीलंका भेजा गया है। श्रीलंका जाने वाली टीम में काफी सारे युवा खिलाड़ियों को भी मौका दिया गया है।

MUST READ