विदेशी खिलाड़ियों के बिना होगा IPL 2021, चेन्नई और राजस्थान रॉयल्स को होगा सबसे बड़ा नुकसान

आईपीएल 2021 को लेकर BCCI ने साफ कर दिया हैं की जो बचे हुए 31 मुकाबले हैं वो UAE में ही करवाए जाएंगे हालांकि अभी इन मैचों की तारीख तो सामने नहीं आई है लेकिन यह जरूर बता दिया गया है कि सितंबर से शुरू होंगे और अक्टूबर में इसका फाइनल खेला जा सकता है। लेकि इसी के बीच ऐसा भी माना जा रहा है कि आईपीएल 2021 के बचे हुए मुकाबले विदेशी खिलाड़ियों के बिना ही खेले जा सकते हैं। कुछ दिन पहले ही इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने ऐलान कर दिया था कि उनका कोई भी खिलाड़ी अब इस टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं बनेगा जो कुछ टीमों के लिए बड़ा झटका हो सकता है। लेकिन अब BCCI ने भी साफ कर दिया है कि अगर विदेशी खिलाड़ी आईपीएल नहीं भी खेला चाहते तो इस टूर्नामेंट के ऊपर कोई असर नहीं पड़ेगा।

आपको बता दें की भारत में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच फैसला लिया गया था कि आईपीएल 2021 को बीच में रोकना है लेकिन उसके बाद से ही हर दिन चर्चा चली रहती थी की जो बचे हुए मुकाबले है वो कब और कहां पर करवाए जाएं। लेकिन अब टीमों के सामने भी मुसीबत यह है कि अक्टूबर में आईपीएल 2021 के बचे हुए मुकाबले खत्म होंगे और उसके तुरंत बाद ही टी -20 वर्ल्ड कप भी खेला जाना है जिसको देखते हुए कुछ टीमें नहीं चाहती कि उनके खिलाड़ी आईपीएल का हिस्सा बने और वर्ल्ड कप की तैयारी पर कोई असर पड़े। अगर ऐसा होता है तो आईपीएल 2021 में कई टीमों का बड़ा नुक्सान हो सकता है और उनको बिना विदेशी खिलाडियों के ही मुकाबले खेलने पड़ेंगे और विकल्प भी ढूंढ़ने पड़ेंगे।

अबसे पहले अगर राजस्थान रॉयल्स की बात की जाए तो संजू सेमसन की कप्तानी में इस बार टीम का प्रदर्शन कुछ खास नहीं देखने को मिला और इस टीम में इंग्लैंड के बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर और जोस बटलर खेलते हैं जिनके बिना राजस्थान रॉयल्स के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी हो सकती है। हालांकि बेन स्टोक्स और आर्चर पहले ही चोटिल थे और टीम को उनके बिना ही खेलना पड़ा था। वहीं बटलर ने इस बार जबरदस्त प्रदर्शन दिखाया था और ओपनिंग करते हुए एक शानदार शतक भी लगाया था। ऐसे में अगर इंग्लैंड के खिलाड़ी नहीं खेलते तो सबसे बड़ा नुकसान राजस्थान रॉयल्स का ही होने वाला है। अब संजू सेमसन के सामने भी चुनौती होगी कि इंग्लैंड के खिलाड़ियों के बिना कौन से खिलाड़ियों को टीम में जगह दी जाए।

वहीं अब ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कम्मिंस ने भी मना कर दिया हैं की वह आईपीएल 2021 के बचे हुए मुकाबले कोलकाता टीम की तरफ से नहीं खेलेंगे और ना ही कोलकाता के कप्तान मॉर्गन टीम का हिस्सा बनेंगे। बात अगर चेन्नई सुपर किंग्स की करे तो उनकी तरफ से मोईन अली और सैम करेन का खेलना भी मुश्किल ही नजर आ रहा है। ऐसे में धोनी के लिए भी परेशानी बन सकती है क्योंकि मोईन अली का प्रदर्शन चेन्नई की तरफ से शानदार देखने को मिला था और उन्होंने चेन्नई की तरफ से अपने पहले ही सीजन में सबको हैंरान कर दिया था। अब देखना होगा कि अगर विदेशी खिलाड़ी आईपीएल 2021 के मैच नहीं खेलते तो इस टूर्नामेंट को मजा तो जरूर खराब होगा।

MUST READ