भारत की हार पर भड़का पूर्व गेंदबाज, बोला – 100 टेस्ट खेलकर भी टीम को जीत नहीं दिला पाया यह खिलाड़ी

टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल हारने के बाद लगातार टीम इंडिया के प्रदर्शन पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं और अब भारत के 1983 वर्ल्ड कप टीम के गेंदबाज बलविंदर सिंह संधू ने भारत की हार पर बड़ा बयान दिया है और उन्होंने खास करके तेज़ गेंदबाजों पर निशाना साधा है। संधू का मानना है कि इतना नुभव होने के बाद गेंदबाजों को जो काम करना चाहिए था वो नहीं हो पाया जो सबसे बड़ा चिंता का विषय है क्योंकि कीवी टीम के गेंदबाजों ने शानदार खेल दिखाया और अपने दम पर टीम को जीत दिलाई है।

बलविंदर सिंह संधू ने कहा – इशांत शर्मा को 100 टेस्ट मैच खेलने का अनुभव है और वह मुझे हमेशा ऐसे लगते हैं जैसे टीम में कोई नया खिलाड़ी आया है। आज उन्हें टीम इंडिया की तेज गेंदबाजी की कमान संभालनी चाहिए थी और उनका काम मोहम्मद शमी कर रहे हैं। जसप्रीत बुमराह भी कुछ खास नहीं कर पाए और हमारे तेज गेंदबाज भी हार का बड़ा कारण रहे हैं इसलिए अब टीम मैनेजमेंट को इसपर विचार करने की जरूरत है क्योंकि आगे इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलनी है और अगर वहां भी ऐसा ही हाल रहा तो सीरीज जीतनी मुश्किल हो सकती है।

बता दें की अब फाइनल के बाद टीम इंडिया को अगस्त में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलनी है। विराट कोहली ने फाइनल हारने के बाद कहा है कि हमनें जो गलतियां की है उसे सुधारने की कोशिश करेंगे और मुझे उम्मीद है कि सब अपनी जिम्मेदारी को समझेंगे। एक बड़ी टीम होने के चलते हम ज्यादा गलतियां नहीं कर सकते और इंग्लैंड के खिलाफ हम खास रणनीति बनाकर मैदान पर उतरेंगे।

MUST READ