भारत की शर्मनाक हार ने बढ़ाई रवि शास्त्री की चिंता, एक ट्रॉफी हारते ही जा सकता है हेड कोच का पद

टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत की हारक के बाद टीम इंडिया के प्रदर्शन पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं। यही नहीं विराट कोहली की कप्तानी और रवि शास्त्री को कोचिंग से हटाने की मांग भी क्रिकेट फैंस कर रहे हैं। टीम इंडिया की शर्मनाक हार होने पर सोशल मीडिया पर क्रिकेट फैंस की निराशा भी साफ दिखी। टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल इस साल के टी-20 वर्ल्ड कप तक है और अब शास्त्री की चिंता भी बड़ गई है क्योंकि अगर वह अपनी कोचिंग में टीम इंडिया को वर्ल्ड कप नहीं जीता पाए तो शायद ही BCCI उनका कोचिंग कार्यकाल आगे बढ़ाए।

आपको बता दें की जबसे रवि शत्श्री टीम इंडिया के साथ जुड़े हैं तबसे भारत ने तीनों फॉर्मेट पर जबरदस्त प्रदर्शन दिखाया है और बहुत सारी सीरीज भी अपने नाम की है लेकिन ICC के फाइनल मुकाबलों में टीम का प्रदर्शन कुछ खा स नहीं रहा है। शास्त्री की कोचिंग में भारत 2015 वर्ल्ड कप का सेमीफइनल, 2016 टी -20 वर्ल्ड कप का सेमी फाइनल, 2017 चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल, 2019 वर्ल्ड कप का सेमी फाइनल और अब टेस्ट चैंपियनशिप 2021 का फाइनल जीतने में सफल नहीं हो पाई है जिससे अब रवि शास्त्री की नौकरी पर भी तलवार लटक सकती है। अब रवि शास्त्री की नज़र भी आने वाले टी – वर्ल्ड कप पर होगी कि उसमें भारत फाइनल तक पहुंचे और ट्रॉफी अपने नाम करे जिससे शास्त्री का पद बचा रहे।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की हार के बाद अब टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ उनके घर में पांच टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलनी है जिसके लिए टीम के सभी खिलाड़ी अपनी गलतियों पर काम करने की कोशिश करेंगे क्योंकि अगर फाइनल की तरह ही प्रदर्शन चला तो सीरीज में जीत हासिल करना मुश्किल हो सकता है। बता दें की अंतिम बार इंग्लैंड में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में भारत ने टेस्ट सीरीज जीती थी और इस बार विराट कोहली भी कुछ वैसा ही करना चाहेंगे।

MUST READ