बलात्कार के दोषी नित्यानंद ने अपने देश ‘कैलासा’ आने वाले भारतीयों पर लगाई रोक

भारत के भगोड़े नित्यानंद ने भारत में कोवि़ड -19 मामलों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर अपने गृह देश कैलासा में भारतीयों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। भारत के अलावा, ब्राजील, यूरोपीय संघ और मलेशिया के यात्रियों के प्रवेश पर भी रोक लगा दी है। कैलासा ने एक बयान में कहा, “इन देशों में कोरोना वायरस की दूसरी और तीसरी लहर के कारण निर्णय लिया गया है और इन देशों के यात्रियों को आगे की सूचना तक रोक दिया जाएगा।”

पिछले साल यौन उत्पीड़न के एक भगोड़े आरोपी नित्यानंद ने कैलासा का दौरा करने के लिए तीन दिन के वीजा की घोषणा की थी। एक वीडियो में उन्हें यह कहते हुए सुना गया था, “अगले पांच वर्षों में कम से कम एक लाख लोग कैलासा का दौरा करेंगे।”

तथाकथित देश कैलासा की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, यह उन लोगों के लिए स्थापित किया गया था जिन्होंने दुनिया भर में अपने देश में हिंदू धर्म का अभ्यास करने का अधिकार खो दिया है। अगस्त 2019 में, देश में K रिजर्व बैंक ऑफ केला ’की स्थापना की घोषणा करते हुए एक वीडियो जारी किया गया था।

MUST READ