नुसरत जहां की मुश्किलें बढ़ीं: बीजेपी ने लोकसभा स्पीकर से की कार्रवाई की मांग

पश्चिम बंगाल की बशीरहाट सीट से तृणमूल कांग्रेस सांसद नुसरत जहां की शादी अब लोकसभा में पहुंच गई है। बीजेपी सांसद संघमित्रा मौर्य ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर नुसरत जहां की लोकसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की है। बीजेपी सांसद संघमित्रा ने नुसरत जहां पर दुराचार का आरोप लगाया है।

संघमित्रा ने पत्र में कहा कि नुसरत जहां ने लोकसभा के सदस्य के रूप में शपथ लेने के दौरान अपने नाम की घोषणा “नुसरत जहां रूही जैन” के रूप में की थी। लोकसभा की वेबसाइट पर नुसरत जहां के पति का नाम भी निखिल जैन लिखा हुआ है। उनके शादी के रिसेप्शन में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शामिल हुईं। उन्होंने कहा कि किसी को भी नुसरत के निजी जीवन में दखल नहीं देना चाहिए, लेकिन उनके ताजा बयान का मतलब है कि उन्होंने जानबूझकर संसद को गलत सूचना दी थी। उन्होंने मतदाताओं को धोखा दिया।

संघमित्रा ने आरोप लगाया कि नुसरत जहां ने मतदाताओं को धोखा दिया है। इससे संसद की छवि धूमिल हुई है। भाजपा सांसद ने मामले को संसद की आचार समिति के पास भेज दिया है और नुसरत के खिलाफ जांच और कार्रवाई की मांग की है। नुसरत ने कथित तौर पर बिजनेसमैन निखिल जैन से 2019 में तुर्की में शादी की थी।

कोलकाता में एक रिसेप्शन भी रखा गया जिसमें मशहूर हस्तियों और प्रमुख राजनेताओं ने भाग लिया। अब नुसरत जहां का दावा है कि निखिल जैन से उनकी शादी भारत में वैध नहीं है। उनके बीच सिर्फ एक ही लिव-इन रिलेशनशिप था और उनका ब्रेकअप काफी पहले हो गया था। नुसरत ने कहा, ‘हमने तुर्की के कानून के तहत शादी की थी, इसलिए भारत में यह कानूनी नहीं है। ऐसे में तलाक का सवाल ही नहीं उठता।

MUST READ