धोनी, गांगुली नहीं इस कप्तान ने जीती थी इंग्लैंड में अंतिम टेस्ट सीरीज, क्या कोहली भी रचेंगे इतिहास !

मौजूदा समय में टीम इंडिया इंग्लैंड में हैं और कोहली की कप्तानी में भारत को मेजबान टीम के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलनी है जिसकी शुरुआत 4 अगस्त से होगी लेकिन विराट कोहली के लिए इंग्लैंड के खिलाफ उनके घर में टेस्ट सीरीज जीतना एक बड़ी चुनौती रहेगी क्योंकि इस सीरीज से पहले ही भारत टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल हारी है जिसके बाद कोहली की कप्तानी और खिलाड़ियों के चयन पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। यह टेस्ट सीरीज कोहली के लिए काफी अहम होगी क्योंकि पिछले 14 सालों से भारत इंग्लैंड के खिलाफ उनके घर में टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाया है और अब कोहली के पास उनकी धरती पर इतिहास रचने का बड़ा मौका होगा।

आपको बता दें की भारतीय टीम ने 2007 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में इंग्लैंड के खिलाफ उनके घर में टेस्ट सीरीज जीती थी और उसके बाद आजतक भारत वहां टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाया है जो कोहली को ध्यान में रखना होगा। राहुल द्रविड़ के बाद धोनी की कप्तानी में भारत ने 2011 में इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेली जिसमें उन्हें 4-0 से हार का सामना करना पड़ा था। फिर 2014 में भी धोनी की कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड में 3-1 से टेस्ट सीरीज गंवाई। यह सिलसिला आगे भी ऐसे ही चलता रहा जब 2018 में कोहली की कप्तानी में भारत को इंग्लैंड में 4-1 से टेस्ट सीरीज में हार नसीब हुई। ऐसे अब जो कारनामा धोनी जैसा कप्तान भी नहीं कर पाया वो विराट कोहली जरूर करना चाहेंगे लेकिन इसके लिए उन्हें खास रणनीति के साथ मैदान पर उतरना होगा।

विराट कोहली ने टेस्ट चम्पिओसनहीप का फाइनल हारने के बाद साफ़ कर दिया था कि अब समय आ चूका है कि हमे इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए टीम में कुछ बदलाव करने की जरूरत है और टीम के सभी खिलाड़ियों को भी अब जिम्मेदारी से खेलना होगा क्योंकि इंग्लैंड को उनके घर में हराना आसान काम नहीं होगा। इस टेस्ट सीरीज से ही टीम इंडिया के लिए अगली टेस्ट चैंपियनशिप भी शुरू हो जाएगी और कोहली चाहेंगे कि एक बार फिर से फाइनल में पहुंचने की कोशिश की जाए।

MUST READ