दूसरा टेस्ट जीतकर रहाणे ने की धोनी की बराबरी, ऐसा कारनामा करने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बने

ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच मेलबोर्न में चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय टीम ने 8 विकेट से जीत दर्ज करके मैच को अपने नाम कर लिया और 4 मैचों की इस सीरीज में 1-1 की बराबरी भी कर ली। अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन दिखाया और पहले टेस्ट में मिली शर्मनाक हार का बदला भी ले लिया। इस जीत के साथ ही रहाणे ने एक शानदार रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया। रहाणे ने यह मैच जीतकर एक ऐसा कारनामा किया जिसके बाद उन्होंने भारत के पूर्व कप्तान धोनी की बराबरी भी कर ली।

दरअसल रहाणे ने भारत की कप्तानी करते हुए अपने पहले 3 टेस्ट मैचों में टीम को जीत दिलाई है। रहाणे ने सबसे पहले 2017 में धर्मशाला में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम की कमान संभाली थी और उसमें 8 विकेट से जीत दर्ज की थी, उसके बाद फिर रहाणे को अफ़ग़ानिस्तान के खिलाफ 2018 में कप्तानी करने का मौका मिला था और उस मैच में भी टीम को 262 रनों से बेंगलुरु में जीत नसीब हुई थी और अब विराट कोहली के जाने के बाद मौजूदा टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट में भी रहाणे ने अपनी कप्तानी में टीम को जीत दिलाई। इससे पहले यह कारनामा धोनी ने किया था, धोनी ने भी बतौर कप्तान अपने पहले 3 टेस्ट मैचों में टीम को जीत दिलाने में सफलता हांसिल की थी।

रहाणे की कप्तानी में भारत ने लगाई जीत की हैट्रिक

  1. ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया – धर्मशाला 2017
  2. अफगानिस्तान को पारी और 262 रनों से हराया – बेंगलुरु 2018
  3. ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया – मेलबर्न 2020

आपको बता दें की पहले टेस्ट में हार मिलने के बाद टीम के कप्तान विराट कोहली ने भारत वापस लौटना था और टीम की कमान अजिंक्य रहाणे को सौंपी गई थी जिसके बाद सबका कहना था की कोहली के जाने के बाद टीम को संभालना मुश्किल होगा पर रहाणे ने अपनी शानदार कप्तानी और बल्लेबाजी से सबका मुंह बंद कर दिया और बता दिया की विराट के जाने के बाद भी वे टीम को संभाल सकते हैं और जीत भी दिला सकते है। वहीं जाने से पहले कोहली ने भी बयान दिया था की – मुझे यकीन है की मेरे जाने के बाद रहाणे टीम को सही दिशा में लेकर जाएगा और उनके पास विदेशों में जाकर अच्छा खेल दिखाने का अनुभव है और अब रहाणे भी कोहली की उम्मीदों पर खरे उतरे हैं।

वहीं दूसरे टेस्ट मैच पर एक नजर डालें तो ऑस्ट्रेलिया पहले टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 195 रन ही बनाए थे जिसका श्रेय जसप्रीत बुमराह को गया जिन्होंने 4 विकेट अपने नाम किए थे। उसके बाद भारत ने शानदार खेलते हुए पहली पारी में 326 रन बनाए डाले जिसमें कप्तान रहाणे ने शानदार शतक ठोका और जडेजा ने भी अर्धशतक जड़ा। वहीं दूसरी पारी में भी टीम इंडिया के गेंदबाज़ों ने कमाल दिखाया और ऑस्ट्रेलिया को 200 रनों पर रोक दिया। मैच जीतने के लिए भारत को 70 रन बनाने थे और रहाणे और शुबमन की जोड़ी ने टीम को शानदार जीत दिला दी। इसी के साथ अब सीरीज में बराबरी हो चुकी है और अब दोनों टीमों की निगाहें अगले टेस्ट को जीतकर सीरीज में बढ़त बनाने पर होगी।

MUST READ